Followers

Thursday, September 6, 2012

Kyunki Tum Adhure Ho क्यूँकी तुम अधूरे हो...



क्यूँकी तुम अधूरे हो...
जिस तरह मेरी खुशी से
तुम्हें खुशी होती है
उसी तरह तुम्हारी खुशी से
मुझे खुशी होती है
तुम्हारे ही कहने पर 
मैंने अपनी दुनिया बसा ली
फिर क्यूँ नहीं तुम मेरे
कहने पर अपनी दूनिया बसाते हो...
मैंने तुम्हे खुशी तो दे दी
पर मेरी खुशी का क्या
और जब मै ही खुश नहीं
तो तुम किस बात पर खुश हो
मुझे दुखीकर खुश हो
बताओ ना...
किस गलतफहमी में खुश हो तुम
चाहे जो भी हो 
ये जान लो तुम
मेरे दुःख की सबसे 
बड़ी वजह तुम हो
क्यूँकी तुम अधूरे हो
अकेले हो
समझे...


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...