समर्थक

गुरुवार, 20 अक्तूबर 2011

Shubh dipawali शुभ दीपावली

शुभ दीपावली 


घर में लक्ष्मि जी कि पूजा हो रही है
और हम सब आरती गा रहे है 

चारो तरफ रोशनी जगमगा रही है      
रंग - बिरंगे दियो कि लौ आ रही है 



सुंदर -सुंदर रंगोली आंगन सजा रही है 
मिठाई कि खुशबू मन ललचा रही है 






पटाखे और फुलझडीयो के सुंदर चित्र   
सबकी आंखे चमका रहीं हैं

फुलों कि भिनी - भिनी सुगंध 
घर - आंगन को महका रही हैं 

नए - नए वस्त्रो मे, नए - नए श्रींगार मे 
शुभ दीपावली कहते हुए लोगो कि टोलीया जा रही हैं .



आप सभी को मेरी ओर से दीपावली कि हार्दिक शुभकामनाए ...
दीपावली का यह पावन उत्सव आप सभी के जीवन मे ढेरो खुशिया लेकर आए....





सोमवार, 17 अक्तूबर 2011

Mai hun tujhame kahin naa kahi मैं हूँ तुझमे कहीं-न -कहीं


मैं तेरे मन में हूँ पर जुबान पर नहीं
मैं तेरी बातो में हूँ  , तेरे शब्दो में हूँ 
 पर मैं हूँ तुझमे कहीं-न -कहीं




तू मेरे दिल में है. मेरी बातो मे है 
मेरी रूह में है , मेरे जजबातो में है 
तू मुझमे समाई है इस कदर ,
बस तू हि तू है मैं कहीं नहीं......


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...