फ़ॉलोअर

शनिवार, 4 अगस्त 2012

Dosti Friendship दोस्ती




सुख - दुःख में जो साथ दे
परायों में अपनों का अहसास दे
जिससे जुड़ा ना हो कोई
मज़बूरी का रिश्ता
जिसे दिल ने माना है
अपना ही हिस्सा
वो प्यारा सा अहसास है दोस्ती...


उसके आने से चहरे पर
मुस्कान खिले
उसके जाने पर दिल
फिर उसकी याद करे..
शरारत और मस्ती है
उसकी अदाओं  में
पर बोले तो यूँ लगे जैसे
मिश्री घुली हो उसकी बातों में
जिसका हर अंदाज है निराला 
वो प्यारा सा नाम है दोस्त


जिंदगी के हर उतार - चढाव
में जो एक सा रहे 
ख़ुशी में साथ दे 
गम मे हाथ थाम ले...
रूठने का मनाने का...
फ़साना है ये प्यार जताने का..
वो अफसाना है दोस्ती...



सबसे अजीज है..
दिल के करीब है वो
रात - रात भर जिसकी 
बाते ना हो ख़त्म
सुबह हुयी नहीं की 
फिर करे बक - बक..
वो प्यारा सा सिलसिला है दोस्ती...


फूलों की तरह जीवन में
मेरे खिलता है जो 
हवा की तरह आस -पास
महकता है जो
रोशनी की तरह 
हरपल चमकता है जो..
वो खुबसूरत बहार है दोस्ती...:-)


33 टिप्‍पणियां:

  1. अच्छे और सच्चे दोस्त बड़ी मुश्किल से मिलते हैं, और मिल जाएं तो समझो ख़ुदा मिल गया।

    जवाब देंहटाएं
  2. फूलों की तरह जीवन में
    मेरे खिलता है जो
    हवा की तरह आस -पास
    महकता है जो
    रोशनी की तरह
    हरपल चमकता है जो..
    वो खुबसूरत बहार है दोस्ती.
    ..................
    दोस्ती का नाम जिन्दगी..
    जिन्दगी का नाम दोस्ती

    जवाब देंहटाएं
  3. उत्तर


    1. सुख - दुःख में जो साथ दे
      परायों में अपनों का अहसास दे
      जिससे जुड़ा ना हो कोई
      मज़बूरी का रिश्ता
      जिसे दिल ने माना है
      अपना ही हिस्सा
      वो प्यारा सा अहसास है दोस्ती...


      उसके आने से चहरे पर
      मुस्कान खिले
      उसके जाने पर दिल
      फिर उसकी याद करे..
      शरारत और मस्ती है
      उसकी अदाओं में
      पर बोले तो यूँ लगे जैसे
      मिश्री घुली हो उसकी बातों में
      जिसका हर अंदाज है निराला
      वो प्यारा सा नाम है दोस्त


      जिंदगी के हर उतार - चढाव
      में जो एक सा रहे
      ख़ुशी में साथ दे
      गम मे हाथ थाम ले...
      रूठने का मनाने का...
      फ़साना है ये प्यार जताने का..
      वो अफसाना है दोस्ती...



      सबसे अजीज है..
      दिल के करीब है वो
      रात - रात भर जिसकी
      बाते ना हो ख़त्म
      सुबह हुयी नहीं की
      फिर करे बक - बक..
      वो प्यारा सा सिलसिला है दोस्ती...


      फूलों की तरह जीवन में
      मेरे खिलता है जो
      हवा की तरह आस -पास
      महकता है जो
      रोशनी की तरह
      हरपल चमकता है जो..
      वो खुबसूरत बहार है दोस्ती...:-)

      हटाएं
  4. दोस्ती को क्या खूब परिभाषित किया है...बहुत सुंदर !!
    Happy Friendship Day !!!

    जवाब देंहटाएं
  5. दोस्ती निस्स्वार्थ रूप में किया गया स्नेह, प्रेम, एक आलौकिक प्रेम की मधुर अनुभूति मैत्री...बहुत सुन्दर रचना

    जवाब देंहटाएं
  6. बहुत सुन्दर व्याख्या रीना...........
    सदा घिरी रहो सच्चे सच्चे प्यारे प्यारे दोस्तों से.
    happy friendship day

    love
    anu

    जवाब देंहटाएं
  7. सबसे अजीज है..
    दिल के करीब है वो
    रात - रात भर जिसकी
    बाते ना हो ख़त्म
    सुबह हुयी नहीं की
    फिर करे बक - बक..
    वो प्यारा सा सिलसिला है दोस्ती..

    मित्रता का बेहतरीन एहसास

    जवाब देंहटाएं
  8. दोस्ती को समझना और परिभाषित कर पाना अद्भुत है.

    सुंदर रचना.

    जवाब देंहटाएं
  9. हैप्पी फ्रेंड्स डे रीना.
    आज सही मौके के हिसाब से सही नज्म लिखी है आपने.बहुत सुन्दर भाव लिए ,जो दूर रहकर भी मुझे अपने दोस्तों से करीब कर रही है.इस पर ग़ालिब का एक शेर याद आया.
    ''दोस्तों से बिछड़ के ये अहसास हुआ ग़ालिब ,
    थे तो कमीने पर रौनक उन्ही से थी.''



    मोहब्बत नामा
    मास्टर्स टेक टिप्स

    जवाब देंहटाएं
  10. दोस्ती पर बहुत सुन्दर रचना ....शुभकामनायें ....रीना

    जवाब देंहटाएं
  11. अच्छे दोस्त ऊपर वाले का तोहफा हैं , अमूल्य !
    सुंदर भावों से संजोया आपने !
    आपको भी मित्रता दिवस की शुभकामनाएँ ! :-)

    जवाब देंहटाएं
  12. यह प्रस्तुति भाव अर्थ और व्यंजना में दोस्ती का पूरा मतलब समझाती है ..
    ram ram bhai
    रविवार, 5 अगस्त 2012
    आपके श्वसन सम्बन्धी स्वास्थ्य का भी समाधान है काइरोप्रेक्टिक (चिकित्सा व्यवस्था )में
    आपके श्वसन सम्बन्धी स्वास्थ्य का भी समाधान है काइरोप्रेक्टिक (चिकित्सा व्यवस्था )में
    कृपया यहाँ पधारें -http://veerubhai1947.blogspot.de/

    जवाब देंहटाएं
  13. रीना जी नमस्कार...
    आपके ब्लॉग मेरा मन पंछी सा से कविता भास्कर भूमि में प्रकाशित किए जा रहे है। आज 6 अगस्त को दोस्ती शीर्षक के कविता को प्रकाशित किया गया है। इसे पढऩे के लिए bhaskarbhumi.com में जाकर ई पेपर में पेज नं. 8 ब्लॉगरी में देख सकते है।
    धन्यवाद
    फीचर प्रभारी
    नीति श्रीवास्तव

    जवाब देंहटाएं
  14. सच्चे और अच्छे दोस्तों का मिलना मुश्किल होता है ...
    सार्थक और लाजवाब रचना ...

    जवाब देंहटाएं
  15. सारे रिश्तें छूट जाएँ पर अगर सच्चे दोस्त हों तो ज़िंदगी में किसी अपने के होने का एहसास रहता है जो सुख दुःख में सदैव उपलब्ध रहता है और जो भावनात्मक रूप से संबल प्रदान करता है क्योंकि बदले में उसे कुछ नहीं चाहिए होता है. सुन्दर भावपूर्ण रचना, बधाई.

    जवाब देंहटाएं
  16. फूलों की तरह जीवन में
    मेरे खिलता है जो
    हवा की तरह आस -पास
    महकता है जो
    रोशनी की तरह
    हरपल चमकता है जो..
    वो खुबसूरत बहार है दोस्ती...:-)

    शुक्रिया ....:))

    जवाब देंहटाएं
  17. बहुत सुन्‍दर पक्ति के माध्‍यम से एक सन्‍देस दिया है खूब


    यूनिक तकनीकी ब्लाग

    जवाब देंहटाएं
  18. दोस्त दिवस मुबारक हो.. अच्छी कविता..

    जवाब देंहटाएं
  19. bashudhaiv kutumbakam ,sare sansar ko dost mana chahiye ,and thank for this beautiful post.
    get free laptop in 2000
    khotej.blogspot.com

    जवाब देंहटाएं
  20. रीना जी एक अच्छी कविता और अच्छी दोस्ती के लिए आपको बहुत -बहुत बधाई |

    जवाब देंहटाएं
  21. सुन्‍दर पक्ति के माध्‍यम से एक सन्‍देस दिया है

    जवाब देंहटाएं
  22. बड़ी सुन्दर कविता है, दोस्तों को समर्पित :)

    जवाब देंहटाएं

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...